कागज कैसे बनाया जाता है Kagaj kaise banata hai.purn janakari in hindi(how to make paper)

कागज का निर्माण पेड़ो से होता है । जिस पेड़ में जितना सेलुलोस होगा उससे कागज उतना सफेद साफ बनेगा । कागज तो खराब कपड़ो से भी बनता है । आप कहेंगे कि कपड़ों से हा कपड़ों से भी कागज बनता है। जिन्हें raw material कहते है । 
Kagaj kaise banata hai.purn janakari in hindi

कागज का निर्माण की विधि-

1.ग्राइंडिंग मशीन(Grinding machin)-

इस विधि में सबसे पहले  लकड़ी का चुनाव करते हैं इन लकड़ी में देवदार(Anacardiaceae), बाँस(Bamboo), नीलगिरी का पेड़(Eucalypts) , शंकुधारी पेड़। आदि पेड़ो को कांटा जाता है और उनके तने को छोटे-छोटे टुकड़ों में कर लिया जाता है । यह क्रिया कटर मशीन से होती है । उसके बाद बारीक चूर्ण बनाने वाली मशीन (Grinding Machin) में भेजा जाता है । जहाँ इसका चूर्ण बना लिया जाता है । 

शंकुधारी पेड़-

 शंकुधारी पेड़ इसे कहते है जिसका आकार  शंकु की तरह होता है । जैसे में अशोक,सरल का पेड़(स्प्रूस)  आदि । 


2.पल्प प्रक्रिया(Pulp -

इस प्रक्रिया में बारीक पिसे गये लकड़ी के चूर्ण को पानी मे डाल दिया जाता है। और वह कुछ समय बाद लकड़ी का मुरदा पानी को अच्छे से सोख लेता है । और पानी मे से उस पल्प को छान कर दूसरे पानी टैंक में डाल दिया जाता हैं। उसे अच्छी तरह साफ किया जाता है । इसमें बहुत ज्यादा पानी लगता है । लेकिन पानी का 90% भाग दुबारा प्रयोग में कर लिया जाता है । 
Kagaj kaise banata hai.purn janakari in hindi

3.शुद्धिकरण(Purification)

इस प्रकिया में पल्प में कुछ केमिकल मिलाये जाते  अक्सर ब्लीचिंग पाउडर ही डाला जाता है । कागज को सफेद बनाने के लिए यह किया जाता है।ब्लीचिंग पाउडर को कैल्सियम हाइपोक्लोराइट भी कहते है ।  और बहुत ही ऊँचे वायु  दबाव (high pressure) पर pulping क्रिया होती है । 
इसका रासायनिक सूत्र caocl2 है 
ब्लीचिंग पाउडर सफेद रंग बिल्कुल चुने की तरह । और इस प्रकार जल और पल्प पूरा सफेद हो जाते है । जिसमे अच्छी तरह प्यूरिफिकेशन का कार्य होता है ।

 सीमेंट कैसे बनता है click here

4. प्रेसिंग मशीन (Pressing Machin)-

इसप्रकार पल्प को pressing मशीन में डाला जाता हैं और कागज के लुगदी को मशीन बहुत ही पतला पन्ना बनाया जाता है। इसमे एक प्लेट होता है जिसपर गीले कागज के पन्ने बने होते हैं 


5.सुखाने की प्रक्रिया  (Drying Process)-

जब कागज को प्रेसिंग मशीन से बहुत पतले पन्ने में दबा दिया जाता है तो फिर उसे सुखाने के लिए तापन मशीन में भेजा जाता है । जिसमे से साफ सुथरा पन्ना बाहर निकलता है । और एक बहुत ही मोटे रोल ड्रम में लपेटता जाता है । और इस प्रकार कागज का निर्माण होता है ।