सीमेंट कैसे बनता है विस्तृत जानकारी (How cement is made) 

सीमेंट बनाने के लिए  कई प्रक्रियाओ से गुजरना पड़ता है इसमें लगने वाले खनिज और कुछ कुछ सामग्री  आदि लगते है जो निम्न है ।

1. चूना पत्थर (Limestone)- सफेद पत्थर 
2. मृत्तिका (Clay) - एक प्रकार की हल्की काली मिट्टी जो थोड़ा कठोर होती है ।
3. जिप्सम (Gypsum)(खनिज धातु) 

10% में खनिज की मिलावट 

4. सिलिका 
5.एलुमिना
6.आयरन ऑक्साइड
7. चूना
8.मैग्नेशियम खनिज आदि।


सीमेंट बनाने की विधि  -

सबसे पहले चूना पत्थर को बारीक तोड़ा जाता है ।फिर उसमें मृत्तिका मिट्टी को  मिलाया जाता है । इन दोनों मिश्रण को 1500-1700 ℃ पर गर्म किया जाता है । जब गर्म हो जाता है तो उसमें जिप्सम खनिज मिलाया जाता है ।  और फिर बारीक पीसकर  झरना (sieve) में  झार कर पाउडर  बना लिया जाता है । 

सीमेंट का 80 % काम तो यही तक हो जाता है लेकिन इसे और भी ताकतवर बनाने के लिए इसमे  कुछ खनिज तथा केमिकल भी मिलाये जाते हैं । जिसमे  सिलिका ,एलुमिना, आयरन ऑक्साइड , चुना  तथा मैग्नेशियम खनिज  आदि मिलाये जाते है । जिससे इनकी गुणवत्ता बहुत बढ़ जाती है । यह सीमेंट लगभग 30 सालो तक अच्छे से मजबूती से पकड़े रहता है।

4. सिलिका(silica) - 

Cement kaise banata hai vistrit janakari in hindi

 इसका रासायनिक सूत्र( sio2 ) है । सिलिका को  कई नाम से जाना जाता है सिलिकॉन ऑक्साइड, क्वार्ट्ज, सिलिका रेत, क्रिस्टलीय सिलिका आदि ।   

सिलिका   सिलिकॉन और ऑक्सीजन से संयोग से बनता है । यह बालू (Sand) होता है । पृथ्वी पर वायु के बाद सिलिका सबसे अधिक मात्रा में मौजूद है । आसान शब्दों में रेत को ही सिलिका कहते है । 
और एक सिलिकॉन तत्व है जो ऑक्सीजन से संयोग करके यही रेत बनाता है ।

5.एलुमिना-

एलुमिना का रासायनिक सुत्र एल्युमिनिय ऑक्साइड  (Al2O3)  है । यह एल्युमीनियम Al का ऑक्साइड है । इसी में से शुद्धि करण करके एल्युमीनियम को निकाला जाता है । इसका प्रयोग ceramic(चीनी मिट्टी)  आदि  में भी होता है ।


6.आयरन ऑक्साइड-

आयरन ऑक्साइड जिसका रासायनिक सूत्र Fe2O3 है । इससे भी शुद्ध आयरन निकाला जाता है । आयरन ऑक्साइड जो की खनिज रूप में है । इन सभी का उपयोग करने से सीमेंट की मजबूती ज्यादा टिकाऊ बनाना है ।



7. चूना(Lime)-

बहुत पहले भी जो गारा सीमेंट बनता था  उसमें भी इसका प्रयोग किया जाता था । और उसमें दूध का भी प्रयोग किया जाता था। और आज के सीमेंट में भी बहुत थोड़ा सा प्रयोग किया जाता है।

जैसे एक शरीर को मुख्य भोजन रोटी चावल , सब्जी दाल चाहिए  है। लेकिन शरीर को और भी स्वस्थ्य रखने के लिए कुछ प्रोटीन  , विटामिन की आवश्यकता पड़ती है उसी प्रकार 10% में इनका प्रयोग किया जाता है।



भारत में सीमेंट का कारखाना-


भारत में सीमेंट का सबसे पहला कारखाना 1904 में मद्रास में लगया गया ।
इससमय भारत मे सीमेंट के निम्न कारखाने है

1. मध्यप्रदेश         सतना, कटनी,मैहर, जबलपुर, रतलाम, नीमच ।

2. छत्तीसगढ़       दुर्ग, मंधार, जामुल

3. बिहार          बंजारी, डालमिया नगर ,कल्याणपुर

4. ओडिशा          राजगंज, हीराकुंड

5.उत्तर प्रदेश        चुर्क, डल्ला, चुनार

6. आंधप्रदेश        कृष्णा , गुंटूर, विजयवाड़ा , कुरनूल, विशाखापत्तनम

7. तमिलनाडु        तुलुकापट्टी,थलैयूथ,डालमियापुर

8. झारखंड          सिंदरी, खोलारी, चाईबासा, जपला

9. असम           बोकजन

10. कर्नाटक       भद्रावती, शाहाबाद, गुलबर्ग, बगलकोट

11. राजस्थान      लखेरी , चुरू,चितौड़गढ़,उदयपुर

12.गुजरात        पोरबन्दर, जामनगर, वेरावल ,सिक्का

13.जम्मू और कश्मीर     बूयान, बसोली


भारत दुनिया के  top 10 cement production  के लिस्ट में आता  है । इसका अल्ट्रा टेक सीमेंट ब्रांड  4 स्थान पर रैंक कर रही है ।